अमृतसर: Big rail accident Amritsar दशहरा के मौके पर पंजाब के अमृतसर पर एक बड़ा हादसा हुआ जिसमें लगभग 50 से ज्यादा लोगों के मारे जाने की खबर है। यह हादसा अमृतसर में जोड़ा फाटक के नजदीक हुआ जहां रेलवे ट्रैक के किनारे रावण दहन का कार्यक्रम चल रहा था। इस दौरान वहां हजारों लोग वहा एकत्र हुए थे तभी पटाखों की आवाज आई तो लोग भागने लगे और उन्हें ट्रेन की आवाज नहीं सुनाई दी। इस दौरान आ रही ट्रेन की चपेट में सैकड़ों लोग आ गए।

Big rail accident Amritsar

दिल्ली से रेलवे के शीर्ष अधिकारी अमृतसर रवाना हो गए हैं जिसमें रेल राज्य मंत्री मनोज सिन्हा, रेलवे बोर्ड के अध्यक्ष, प्रधान मुख्य चिकित्सा निदेशक, प्रिसिंपल चीफ ऑपरेटिंग ऑफिसर, चीफ सेफ्टी ऑफिसर और चीफ कॉमर्शियल मैनेजर शामिल हैं। रेल राज्य मंत्री मनोज सिन्हा ने कहा कि यह बेहद दुर्भाग्यपूर्ण हादसा है।

फिलहाल जो खबर मिल रही है उसके मुताबिक मृतकों की संख्या में बढोत्तरी हो सकती है।

घायलों में अधिकतर लोग यूपी और बिहार के बताए जा रहे हैं। यह ट्रेन पठानकोट से अमृतसर आ रही थी। यह हादसा उस समय हुआ जब लोग रेलवे ट्रैक पर रावण का पुतला दहन कर रहे थे। मरने वालों में बच्चे भी शामिल हैं। खबर लिखे जाने तक राहत एवं बचाव दल मौके पर पहुंच गया है। फिलहाल जो तस्वीरें आ रही हैं वो आपको विचलित कर सकती हैं।

Big rail accident Amritsar

ट्रैक के आसपास खून से लथपथ लाशें बिखरी पड़ी हुई हैं जो आपको विचलित कर सकती हैं। घटनास्थल पर मौजूद चश्मदीदों के मुताबिक ट्रेन की रफ्तार काफी तेज थी। उत्तर रेलेवे के पीआरओ ने बताया, ‘अमृतसर और मनावाला के बीच गेट नंबर 27 के पास कोई हादसा हुआ है। वहां पर दशहरे का कार्यक्रम चल रहा था और उस वक्त लोग अचानक रेलवे फाटक की तरफ भागे तभी एमयू ट्रेन नं 74943 गुजर रही थी और गेट बंद थे।’

अमृतसर सिटी के पुलिस कमिश्नर ने हादसे की पुष्टि करते हुए कहा कि दशहरा कार्यक्रम के दौरान रेल के चेपट में आने से पचास से ज्यादा लोगों की मौत हो गई है जबकि कितने लोग हादसे में हताहत हुए हैं इसकी पूरी जानकारी अभी नहीं मिल सकी है। घायलों को नजदीकी अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here